गोर बंजारा समाज वंचित बहुजन मेळावा

*👉वंचित बहुजन आघाडीके साथ राष्ट्रीय बंजारा टायगर्स क्यों ?👈*

*मेरे प्यारे साथीयो जय सेवालाल,🙏🏻*
*मै,आत्माराम सुरसिंग जाधव,राष्ट्रीय अध्यक्ष-राष्ट्रीय बंजारा टायगर्स आपसे कुछ कहने जा रहा हुँ,कृपया पुरा लेख पढिए!!*
*आपने देखा होगा पिछले दिनों में कुछ राज्योके विधानसभा चुनाव हुए थे,जैसे कि-गुजरात,राजस्थान,मध्यप्रदेश,छत्तीसगढ इन राज्योमे हमारा बंजारा समाज बहोत बडे पैमानेमे है तथा देशकी हर एक प्रमुख पार्टी मे हमारे लोग है,उन्होंने अपनी अपनी पार्टीसे चुनाव लढनेकी ईच्छा भी जताई थी,ईनमेसे कई लोगोमे चुनाव जितनेकी क्षमता भी थी पर किसीभी पार्टीने उन्हे टिकट नही दिया.यही बात २०१९ की लोकसभा चुनाव मे हुई.भाजपा,शिवसेना,कॉंग्रेस,राष्ट्रवादी कॉंग्रेस,समाजवादी पार्टी ऐसी किसीभी बडी पार्टीने टिकट नही दिया.सिर्फ तेलंगणा और कर्नाटकामे १-१ टिकट मिला क्योंकी वहाँपर हम रिजर्व कॕटेगरी मेहै,और वह सिटे रिजर्व थी!*
*पर हमारे पास कोइ भी विकल्प नही था,गत लोकसभा चुनाव मे हमने कई बडी पार्टीयोंसे बाते की थी पर कोईभी पार्टी हमे अपनी गिनतीमे लेनेको तैयार नही थे.हमे जो “आरक्षण” चाहिए उसकी बात करनेके लिए कोई भी प्रमुख पार्टी तैयार नहीं है.हमने पोहरादेवी,जि,वाशिम.यहाँपर ‘नंगारा भवन’ के उद्घाटनके समयपर ७ लाखसे जादा संख्या मे समाजकी एकता का प्रदर्शन पोहरादेवी मे किया पर सरकारने हमारी किसीभी मांग को नजर अंदाज किया.आज हमारी यह हालत सभी बंजारा समाज संघटनोंकी और सभी बंजारा नेताओंकी है!*
*तब जाके समाजके सभी प्रमुख संघटनोंने सोचा की, हमे एक होकर राजनितीमे आना चाहिए,पर हमे पता था कि किसी एक समाजकी ताकतपर राजनिती नहीं कि जा सकती ईसलिए जो भी राजनिती और सत्तासे वंचित घटक है उनके साथ जानेका सभी संघटनोके नेताओने निर्णय लिया.आप सभींको पता है महाराष्ट्रमे वंचित बहुजन आघाडीने हमारे समाजके दो लोगोको टिकट दिया था,उनमेसे एक मोहनभाई राठोड जी बहोतही कम ओटोसे हारे थे.अगर, हम सब साथ होते तो शायद हमारा और १ सांसद लोकसभा मे बैठा होता था!*
*इसलिए सत्ता मे अपनी भागीदारी पानेका जो हमारा संविधानिक अधिकार है उसे पानेकी तमन्ना लिए सभी संघटनोने बंजारा समाज की १ समन्वय समिती बनाकर वंचित बहुजन आघाडीसे बात करनेकी पहल की.वंचित बहुजन अघाडीके नेता तथा डॉ.बाबासाहब आंबेडकर के परपोते मा.प्रकाशजी आंबेडकर से समितीके सदस्योने मिलकर अपनी बात रखी तो आंबेडकरजीने महाराष्ट्र विधानसभा की १५ से २० सिटे बंजारा समाज केलिए छोडनेकी बात की,और हमे विश्वास दियाकी बंजारा समाजकी हर एक मांगके साथ मै और मेरे सभी साथी खडे रहेंगे!*
*साथीयो,हमारे जो भी बडे नेता जिस-किसी भी पार्टीमे काम कर रहे है,उन्हे अपना काम करने दिजीए.पर महाराष्ट्र की ४० से जादा सिटोपर हम बहुसंख्यामे होनेके बावजुद हमे नकारा गया है,उनमें से पंधरा से बीस सिटोंको हमे जितके दिखाना है.तथा जो हमारे वंचित भाई है उन्हें भी बाळासाहब उर्फ प्रकाश आंबेडकर जी ने मौका दिया है उन सभीको जिताते हुए हमे महाराष्ट्र की सत्तामें जाना है और जिस महाराष्ट्र को भूतपूर्व मुख्यमंत्री,महानायक-वसंतरावजी नाईक साहब ने सिंचा था,उसे फिरसे आगे लाना है.हम हमारे समाजकी जो मांगे है उन्हे मनवा सकते है.महाराष्ट्र मे लगभग १ करोडसेभी जादा संख्या मे बंजारा समाज है और ७० लाख से जादा मतदाता है.बहुजन वंचित आघाडी मे सभी हमारे जैसे-पिछडे,दलित,मुस्लिम और बहुजन समाज है.अगर,हम सब एकदुसरे को साथ देते है तो हम सब को अपनी संख्या के हिसाब से अपना अधिकार मिल सकता है!*
*इसलिए आपसे राष्ट्रीय बंजारा टायगर्स के सभी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओंसे मेरा अनुरोध है की आपकी जो भी शंकाए होगी आप बिना झिझक मेरेसे बात करे,शायद मै आपकी शंकाओंका समाधान कर पाऊ.अगर,आपके कोई सुझाव होंगे तो आप मेरे निचे दिए हुए नंबर पे दे सकते हैं!*

🙏आपका साथी🙏
आत्माराम सुरसिंग जाधव
राष्ट्रीय अध्यक्ष
राष्ट्रीय बंजारा टायगर्स
मो.9730622311

Leave a Reply