Kisan Walu Rathod

समाजेर लोकुन सोबत लेन, सेन
कळान बैठक लेणु ,तो समाजेम
काई चालरोच ,लोकुन कळिये जाणीये छाणीये अनुर भी मत मांडिये।अन समाजेती लोक जुडिये।करनच आज ई हालत हेगी से बिखरगे।येन जबाबदार कुण छ?

ई गप्तीरो पुजा हेतो काई कैलास?
सुप्रभात भियाओ 

सेवाभाया र सैनिको ऊठो जागो।
एक हे जावो,  गोरबंजारा समाजेरी एकीरी झलक वतावो।

नम्रताती बोलो ।हम से छा।

Leave a Reply