Latest

“बंजारा समाजात दांभिक पुरोगामी विचारधारेचा हस्तक्षेप”: समाजास ध्योक्याची घंटा”

*जय सेवालाल* 🙏🏻 *बंजारा समाजात दांभिक पुरोगामी विचारधारेचा हस्तक्षेप — समाजास धोक्याची घंटा* ————————————— *भाग-4* अखिल विश्वातील गोर बंजारा समाज विश्वात सध्या ‘संक्रमणाचा काळ’ चालु आहे. राजकिय, सामाजिक
Read More

“लक्ष चंडी महा यज्ञ आयोजन कि चर्चा ना होती तो?अपनो मे चूप्पे

“लक्ष चंडी “महायज्ञ” आयोजन कि चर्चा ना होती तो”?… अपनो मे चूपे गैरों का कभी पत्ता ना चलता” लेखक:- सूखी चव्हाण बंजारा समाज की काशी माने जानेवाली हमारा
Read More

“यज्ञ के बहाने से ढौंगी पूरोगामी समाज को भ्रमित कर रहे है”?

​यज्ञ के बहानेसे ढोंगी पूरोगामी समाज को भ्रमित कर रहे है?   पूरोगामी कहने वाले लोग  लक्षचंडि यज्ञ को लेकर बहूत चिंतित हो रहे है,दुःखी हो रहे है,शरीर
Read More

“गोर बंजारा साहित्य निर्माण करना जरूरी है”

“गोर बंजारा साहित्य निर्माण ज़रूरी हैं” लेखक -सुखी चव्हाण,बदलापुर गोर बंजारा साहित्य निर्माण बहुत आवस्यक है। साहित्य को जन समूह के हृदय का विकास माना है। साहित्य का
Read More

“तांडा”एक अदभुत संकल्पना”

“वाते मुंगा मोलारी” भीमणीपुत्र “तांडा”- “तांडो ई मनुवादी छेनी तो बौद्धवादी बी छेनी, तांडा ई एक अदभुत संकल्पना छ जेनं इंग्रजी पारिभाषामं ‘ रोम्यांटिशिझम’ केतू आवचं.जगेर पूटेपं कोर
Read More

“समाजवादी बनो और समाज को परिवर्तित करो”

|| जय सेवालाल || जय सेवालाल || श्री संत महान तपस्वी रामराव महाराज यह बंजारा समाज के धर्मगुरू है । हिंदुस्थान के सभी बंजारा भाई-बहन, बंजारो की काशी
Read More